जौनपुर: डीएम के निरीक्षण में अधिकारी,कर्मचारी लापता मिले, फाइलें अस्त व्यस्त,गिरी गाज

जौनपुर: डीएम के निरीक्षण में अधिकारी,कर्मचारी लापता मिले, फाइलें अस्त व्यस्त,गिरी गाज

जौनपुर: जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा द्वारा नलकूप खण्ड जौनपुर, लघुडाल नहर खण्ड जौनपुर, सिंचाई खण्ड जौनपुर का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित अधिशासी अभियन्ता नलकूप शारदा राम सहित कर्मचरियो का एक दिन का वेतन रोकने का निर्देश दिया। लघुडाल नहर कार्यालय के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कार्यालय गेट पर बने हेल्प डेस्क पर सेनेटाइजर, थर्मल स्कैनर उपलब्ध नहीं था और न ही हेल्प डेस्क पर कोई कर्मचारी पाया गया, जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने तुरंत हेल्प डेस्क पर सेनेटाइजर, थर्मल स्कैनर रखने तथा एक कर्मचारी को ड्यूटी लगाने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने जिले की नहरों का मैप देखा। कर्यालय में अस्त व्यस्त पड़ी फाइलों को देख नाराजगी व्यक्त करते हुए लम्बित पड़ी फाइलों को 15 दिनों में निस्तारित करने का निर्देश दिया। सिंचाई खण्ड जौनपुर के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने पट्टे की गई जमीन का रजिस्टर देखा, जिसमे वर्तमान समय मे 17 जमीनों का पट्टा किये जाने का रिकॉर्ड दर्ज मिला। जिलाधिकारी ने अधि0 अभि0 आशीष कुशवाहा को कार्यालय के बाहर गंदगी एवं अस्त व्यस्त तरीके से पार्क की गई मोटरसाइकिलो को देख नाराजगी व्यक्त करते हुवे पार्किंग की व्यवस्था तथा साफ-सफाई के साथ पानी के बहाव को ठीक कराने का निर्देश दिया तथा ईओ नगर पालिका को समय-समय पर सफाई कराने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने निरीक्षण के बाद सभी विभाग के अधिकारियों को अपने कार्यालय में सेनेटाइजर तथा कार्यालय के गेट पर बने कोरोना हेल्प डेस्क पर थर्मल स्कैनर के साथ सेनेटाइजर रखे और संदिग्ध व्यक्ति के मिलने पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 राकेश कुमार को सूचित करें। अमित सिंह - शारदा न्यूज़