जमीन लेने को तैयार हुए इकबाल अंसारी, कहा बनवाएंगे स्कूल और अस्पताल

जमीन लेने को तैयार हुए इकबाल अंसारी, कहा बनवाएंगे स्कूल और अस्पताल

लखनऊ. बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने कहा है कि सरकार उन्हें जमीन देती है, तो वे वहां स्कूल और हॉस्पिटल बनवाएंगे। उन्होंने कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हुए कहा कि अयोध्या मामले में फैसला आने के बाद हिंदू और मुस्लिम के बीच नफरत खत्म हुई है। अब नहीं चाहते कि हिंदुस्तान में अफरा-तफरी का माहौल दोबारा बने।
मदरसा बनवाकर दे सरकार
इकबाल अंसारी ने कहा कि अगर मस्जिद के लिए कोर्ट दोबारा उन्हें बुलाएगा तो वे इसपर अपनी कोई रणनीति बताएंगे। उन्होंने कहा कि हिंदू-मुस्लिम के बीच जो नफरत की दीवार थी, वह इस फैसले के साथ खत्म हुई। कोर्ट ने पांच एकड़ जमीन का आदेश दिया है। जमीन कहां दी गई है इसका पता नहीं। लेकिन कोर्ट के आदेश के मुताबिक हमे जमीन मिलनी चाहिए। यह पीएम मोदी और सीएम योगी की सरकार है। देश में अमन शांत रही है, वैसे ही आगे भी रहेगी। उन्होंने सरकार से मांग की उन्हें मदरसा बनवाकर दिया जाए। इससे पहले इकबाल अंसारी ने मांग की थी कि अधिग्रहित जमीन में से ही उन्हें पांच एकड़ जमीन दी जानी चाहिए। जमीन उनकी सहूलियत के हिसाब से मिले तभी वे कोर्ट की बात को स्वीकार करेंगे।