ओपी सिंह के बाद यह बनेंगे यूपी का नये डीजीपी, इस बैच के आईपीएस को मिलेगी जिम्मेदारी, बड़ा ऐलान जल्द

ओपी सिंह के बाद यह बनेंगे यूपी का नये डीजीपी, इस बैच के आईपीएस को मिलेगी जिम्मेदारी, बड़ा ऐलान जल्द

लखनऊ। नए साल के साथ ही उत्तर प्रदेश को नए पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) भी मिलेंगे। यूपी पुलिस के डीजीपी ओम प्रकाश सिंह का इसी 31 जनवरी को रिटायर हो रहे हैं। इस वजह से उनके उत्तराधिकारी की नियुक्ति प्रक्रिया भी जल्द ही शुरू हो जाएगी। जानकारी के मुताबिक इस पद के लिए यूपी कैडर के जिन आईपीएस अफसरों का नाम चर्चा में है, वह सभी साल 1984 बैच से लेकर 1988 बैच तक के यूपी कैडर के आईपीएस अफसर हैं।
इन नामों की अटकलें तेज
आपको बता दें कि साल 1983 बैच के आईपीएस अफसर ओपी सिंह 23 जनवरी को यूपी डीजीपी के रूप में अपना दो साल का कार्यकाल पूरा करने जा रहे हैं। वह इसी महीने 31 जनवरी को इस पद से रिटायर होंगे। ओपी सिंह ने मुख्य सूचना आयुक्त के पद के लिए अपना आवेदन भी कर दिया है। इस वजह से यह भी साफ है कि उनके सेवा विस्तार की भी कोई संभावना नहीं है और कोई नया शख्स ही अब डीजीपी का पद संभालेगा। इसके लिए 1984 बैच के आईपीएस डॉ. एपी माहेश्वरी से लेकर 1988 बैच के आईपीएस आनंद कुमार तक के नामों की अटकलों का बाजार गर्म है।
यह नाम भी रेस में
यूपी कैडर के आईपीएस में डीजीपी ओपी सिंह (OP Singh) के बाद साल 1984 बैच के डॉ. एपी माहेश्वरी और एस. जावीद अहमद सबसे सीनियर हैं। जावीद अहमद यूपी के डीजीपी रह चुके हैं और मार्च 2020 में उनका रिटायरमेंट भी है। वहीं केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर ब्यूरो आफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट में डीजी पद पर काम कर रहे डॉ. माहेश्वरी का रिटायरमेंट फरवरी 2021 में है। इसके अलावा दावेदारों में 1985 बैच के डीजी विजिलेंस हितेश चंद्र अवस्थी और केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर आरपीएफ के डीजीपी अरुण कुमार के नाम भी हैं। अरुण कुमार और हितेश चंद्र अवस्थी जून 2021 में रिटायर हो रहे हैं। वहीं साल 1986 बैच के जवाहर लाल त्रिपाठी और महेन्द्र मोदी का रिटायरमेंट भी इसी साल है, जबकि मो. जावेद अख्तर और नासिर कमल केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं। वहीं इसी बैच के सुजानवीर सिंह डीजी ट्रेनिंग पद पर काम कर रहे हैं और उनका रिटायरमेंट सितंबर 2021 में होना है।
1987 और 1988 बैच में ज्यादा दावेदार
उत्तर प्रदेश के नए डीजीपी के लिए वर्ष 1987 और 1988 बैच में ज्यादा दावेदारों की चर्चा है। साल 1987 बैच के बीएसएफ के डीजी मुकुल गोयल का रिटायरमेंट साल 2024 में, ईओडब्ल्यू व एसआईटी के डीजी राजेन्द्र पाल सिंह का रिटायरमेंट 2023 में और डीजी फायर विश्वजीत महापात्रा का रिटायरमेंट 2022 में है। इसी बैच के वीरेन्द्र कुमार, भावेश कुमार सिंह व डीएल रत्नम इसी साल रिटायर हो रहे हैं, जबकि जीएल मीना प्रतीक्षारत हैं। इसी तरह वर्ष 1988 बैच में आरके विश्वकर्मा, डा. देवेन्द्र सिंह चौहान, अनिल कुमार अग्रवाल, आनंद कुमार व असित कुमार पंडा दावेदार हो सकते हैं। इसमें आनंद कुमार का सेवाकाल सबसे लंबा है। वह 2024 में रिटायर होंगे जबकि आरके विश्वकर्मा, डॉ. देवेन्द्र सिंह चौहान व अनिल कुमार अग्रवाल का सेवाकाल वर्ष 2023 तक है।