कुछ इस तरह से दिखेगा भगवान श्री रामलला का अस्थाई मंदिर

कुछ इस तरह से दिखेगा भगवान श्री रामलला का अस्थाई मंदिर

अयोध्या। रामजन्मभूमि परिसर में भगवान श्री राम लला के भव्य मंदिर निर्माण के लिए श्री रामलला को अस्थाई भवन में विराजमान कराया जाएगा। जिसके लिए अस्थाई भवन को तैयार किया जा रहा है और 25 मार्च सुबह 4:00 बजे रामलला को नया स्थान पर स्थापित कर दिया जाएगा इस दौरान ट्रस्ट के सभी सदस्य व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद होंगे
          राम जन्मभूमि परिसर में अस्थाई भवन के निर्माण के लिए चबूतरे का निर्माण कर दिया गया है जिस पर जर्मन की लकड़ी से बने गर्भगृह में बुलेट प्रूफ कॉटेज के अंदर विराजमान होंगे यह गर्भगृह जमीन से 24 फुट ऊंचा होगा इसके साथ ही लंबाई 24 चौड़ाई 17 फुट रखा गया है साथ ही बन रहे अस्थाई भवन के दीवारों पर बुलेटप्रूफ फाइबर के सीटों को भी लगाया जाएगा। वही श्रद्धालुओं के दर्शन मार्ग पर लोहे की जालियां लगाई जाएंगी। जिसको लेकर परिसर के अंदर कार्य तेज गति से की जा रही है माना जा रहा है कि 20 मार्च के पहले उन सभी कार्यों को पूरा कर लिया जाएगा और 20 मार्च से ही अयोध्या काशी की विद्वानों के द्वारा वैदिक मंत्र से अनुष्ठान प्रारंभ हो जाएगा और 25 मार्च को श्री रामलला उस स्थान पर विराजमान होंगे।
         राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा ने बताया कि परिसर में अस्थाई भवन के निर्माण का कार्य कर रहे हैं और जल्द पूरा कर लिया जाएगा। और 20 मार्च से अयोध्या के प्रखर विद्वान की कमी नही जिनके द्वारा स्थल को पवित्र किया जाएगा और 25 कि सुबह 4 बजे श्री रामलला उस अस्थाई भवन में विराजमान कराया जाएगा।